Shayari

Short Two Line Shayari in Hindi with Images

Two Line Shayari is one of the most liked Shayari. Expressing very touching feelings in short words is the specialty of two-line Shayari. Keeping in mind the choice of our readers, we are presenting an excellent collection of short two-line Hindi Shayari. Hope you will like it.

वर्तमान समय में लोगों के पास समय नहीं है या लंबी शायरी पढ़ना पसंद नहीं है और इसी कारण से हम आसानी से समझने योग्य शब्दों के उपयोग के साथ हिंदी और अंग्रेजी भाषा में ज्यादातर 2 लाइन शायरी साझा करते हैं। सर्वश्रेष्ठ दो-पंक्ति वाली हिंदी शायरी, हम उन सभी मित्रों का भी स्वागत करते हैं जो हिंदी और अंग्रेजी फ़ॉन्ट में दो-पंक्ति शायरी संग्रह के प्रशंसक हैं। तो दोस्तों अगर आपको मेरी दो पंक्तियों वाली शायरी संग्रह पसंद आए तो WhatsApp, Twitter, Facebook आदि को शेयर करें धन्यवाद!

Two Line Shayari in Hindi with Images

Two Line Shayari in Hindi with Images

asan nahin hai hamase yoon shayari mein jeet pana..!!
ham har ek laphz mohabbat mein haar kar likhate hain.

आसान नहीं है हमसे यूँ शायरी में जीत पाना..!!
हम हर एक लफ्ज़ मोहब्बत में हार कर लिखते हैं।

Two Line Shayari in Hindi with Images

Baise Hi Din Baisi Hi Raate Hain Ghalib, Bahi Roj Ka Fasana Lagta Hai,
Abhi Mahina Bhi Nahin Gujra Aur Ye Saal Purana Lagta Hai.

वैसे ही दिन वैसी ही रातें हैं ग़ालिब, वही रोज का फ़साना लगता है,
अभी महीना भी नहीं गुजरा और यह साल अभी से पुराना लगता है।

Two Line Shayari in Hindi with Images

rahtaa to nashaa teri yaadon kaa hi hai,
koi puchhe to kah detaa hun pi rakhi hai

रहता तो नशा तेरी यादों का ही है,
कोई पूछे तो कह देता हुँ पी रखी है

Two Line Shayari in Hindi with Images

Tareef Apne Aap Ki Karna Fizool Hai,
Khushboo Khud Bata Deti Hai Kaun Sa Phool Hai.

तारीफ़ अपने आप की करना फ़िज़ूल है,
ख़ुशबू खुद बता देती है कौन सा फ़ूल है।

Two Line Shayari in Hindi with Images

gunaah karake kahaan jaoge gaalib,
ye jameen aur aasamaan sab usee ka hai.

गुनाह करके कहाँ जाओगे गालिब,
ये जमीन और आसमान सब उसी का है।

Two Line Shayari in Hindi with Images

Jin Jakhmo Se Khoon Nahi Nikalta Samajh Lena,
Wo Zakhm Kisi Apne Ne Hi Diya Hai.

जिन जख्मो से खून नहीं निकलता समझ लेना
वो ज़ख्म किसी अपने ने ही दिया है।

Two Line Shayari in Hindi with Images

rishta banaaya hai to nibhaayenge,
har vakt tumase ladenge aur tumhe manaayenge!

रिश्ता बनाया है तो निभायेंगे,
हर वक्त तुमसे लड़ेंगे और तुम्हे मनायेंगे!

Two Line Shayari in Hindi with Images

Chehre Par Sukoon To Bas Dikhaane Bhar Ka Hai,
Varna Bechain To Har Shakhs Zamane Bhar Ka Hai.

चेहरे पर सुकून तो बस दिखाने भर का है,
वरना बेचैन तो हर शख्स ज़माने भर का है।

Two Line Shayari in Hindi with Images

bas yahee do masale jindagee bhar na hal hue,
na neend pooree huee na khvaab mukammal hue! S

बस यही दो मसले जिंदगी भर ना हल हुए,
ना नींद पूरी हुई ना ख्वाब मुकम्मल हुए! ?

Two Line Shayari in Hindi with Images

Teri Mohabbat Ko Kabhi Khel Nahi Samjha,
Warna Khel To Itne Khele Hai Ki Kabhi Haare Nahi.

तेरी मोहब्बत को कभी खेल नही समझा,
वरना खेल तो इतने खेले है कि कभी हारे नही।

Two Line Shayari in Hindi with Images

tay hai badalana, har cheej badalatee hai is jahaan mein,
kisee ka dil badal gaya, kisee ke din badal gae

तय है बदलना, हर चीज बदलती है इस जहां में,
किसी का दिल बदल गया, किसी के दिन बदल गए।

Two line Shayari on life

hamaaree pasand apanee, nigaah se na toliye..
yah dil ke maamale hain, inamen na boliye!

हमारी पसंद अपनी, निगाह से न तोलिये..
यह दिल के मामले हैं, इनमें न बोलिये! ❤️

meree maasoom see muhabbat ko ye haseen tohaphe de gae hain,
jindagee ban kar aae the.. aur jindagee le gae hain!

मेरी मासूम सी मुहब्बत को ये हसीं तोहफे दे गए हैं,
जिंदगी बन कर आए थे.. और जिंदगी ले गए हैं!

deevaana us ne kar diya ek baar dekh kar,
ham kar sake na kuchh bhee lagaataar dekh kar.

दीवाना उस ने कर दिया एक बार देख कर,
हम कर सके न कुछ भी लगातार देख कर।

tanhaee main muskuraana bhee ishq hai,
is baat ko sab se chhupaana bhee ishq hai ?

तन्हाई मैं मुस्कुराना भी इश्क़ है,
इस बात को सब से छुपाना भी इश्क़ है ?

agar tu shor hai to meri khamoshi tod ke dikhaa,
agar tu eshk hai to meri ruh me utar kar dikhaa

अगर तू शोर है तो मेरी खमोशी तोड़ के दिखा,
अगर तू इश्क़ है तो मेरी रूह मे उतर कर दिखा

badi lambi khaamoshi se gujraa hun mai,
kisi se kuchh kahne ki koshish me

बडी लम्बी खामोशी से गुजरा हूँ मै,
किसी से कुछ कहने की कोशिश मे

Tabah Hokar Bhi Tabahi Dikhti Nahi,
Ye Ishq Hai Iski Dava Kaheen Bikti Nahin.

तबाह होकर भी तबाही दिखती नही,
ये इश्क़ है इसकी दवा कहीं बिकती नहीं।

Mere Irade Meri Taqdeer Badalne Ko Kaafi Hain,
Meri Kismat Meri Lakeeron Ki Mohtaaz Nahin.

मेरे इरादे मेरी तक़दीर बदलने को काफी हैं,
मेरी किस्मत मेरी लकीरों की मोहताज़ नहीं।

agar tu shor hai to meri khamoshi tod ke dikhaa,
agar tu eshk hai to meri ruh me utar kar dikhaa

अगर तू शोर है तो मेरी खमोशी तोड़ के दिखा,
अगर तू इश्क़ है तो मेरी रूह मे उतर कर दिखा

aasaan nahin hai hamase yoon shaayaree mein jeet paana..!!
ham har ek laphz mohabbat mein haar kar likhate hain.

आसान नहीं है हमसे यूँ शायरी में जीत पाना..!!
हम हर एक लफ्ज़ मोहब्बत में हार कर लिखते हैं।

Very Sad two line Shayari

aisaa nahi ki aapki yaad aati nahi,
khtaa sirph etni hai ke ham bataate nahi

ऐसा नही की आपकी याद आती नही,
ख़ता सिर्फ़ इतनी है के हम बताते नही!

Kaun Hun Main…. Ai Zindgi Tu Hi Bata,
Thak Gaya Hun Main Khud Ka Pata Dhoondhte Dhoondhte.

कौन हूँ मैं…. ऐ जिंदगी तू ही बता,
थक गया हूँ मैं खुद का पता ढूँढते ढूंढ़ते।

talab kee raah mein paane se pahale khona padata hai,
bade saude nazar mein ho to chhota hona padata hai

तलब की राह में पाने से पहले खोना पड़ता है,
बड़े सौदे नज़र में हो तो छोटा होना पड़ता है।

Haal Jab Bhi Poochho Khairiyat Bataate Ho,
Lagta Hai Mohabbat Chhod Di Tum Ne.

हाल जब भी पूछो खैरियत बताते हो,
लगता है मोहब्बत छोड़ दी तुमने।

Ham Us Takdeer Ke Pasandida Khilauna Hain,
Wo Roz Jodti Hai Mujhe Phir Se Todne Ke Liye.

हम उस तकदीर के सबसे पसंदीदा खिलौना हैं,
वो रोज़ जोड़ती है मुझे फिर से तोड़ने के लिए।

Do Shabd Tasalli Ke Nahi Milte Iss Shahar Mein,
Log Dil Mein Dimaag Liye Firte Hain.

दो शब्द तसल्ली के नहीं मिलते इस शहर में,
लोग दिल में भी दिमाग लिए फिरते हैं।

Neend Churane Wale Poochhte Hain Sote Kyu Nahi,
Itani Hi Fikr Hai To Phir Hamare Hote Kyu Nahi.

नींद चुराने वाले पूछते हैं सोते क्यों नही,
इतनी ही फिक्र है तो फिर हमारे होते क्यों नही।

Mujhe Uchayion Par Dekhkar Hairan Hain Bahut Log,
Par Kisi Ne Mere Pairon Ke Chhale Nahi Dhekhe.

मुझे ऊँचाइओं पर देखकर हैरान है बहुत लोग,
‪‎पर‬ किसी ने मेरे पैरो के छाले नहीं देखे।

Mohabbat Ka Khumar Utra To, Ye Ehsaas Hua,
Jise Manjil Samajhte The, Wo To Bemaksad Rasta Nikla.

मोहब्बत का ख़ुमार उतरा तो, ये एहसास हुआ,
जिसे मन्ज़िल समझते थे, वो तो बेमक़सद रास्ता निकला।

Mere Junoon Ko Zulf Ke Saaye Se Dur Rakh,
Raste Mein Chhav Paa Ke Musafir Thhehar Na Jaye.

मेरे जुनूँ को ज़ुल्फ़ के साए से दूर रख,
रस्ते में छाँव पा के मुसाफ़िर ठहर न जाए।

Two Line Quotes in Hindi

Milabat Hai Tere Ishq Me Itr Aur Sharab Ki,
Warna Hum Kabhi Mahak To Kabhi Bahak Kyu Jate.

मिलावट है तेरे इश्क में इत्र और शराब की,
वरना हम कभी महक तो कभी बहक क्यों जाते।

aaj bhi kitnaa naadaan hai dil samajhtaa hi nahin
baad barson ke unhen dekhaa to duaaan maang baithaa

आज भी कितना नादान है दिल समझता ही नहीं
बाद बरसों के उन्हें देखा तो दुआएँ माँग बैठा.!

paas vo mere etne ki duriyo kaa koi ehsaas nahin,
phir bhi jaane kyon vo paas hokar bhi mere paas nahin

पास वो मेरे इतने कि दूरियो का कोई एहसास नहीं,
फिर भी जाने क्यों वो पास होकर भी मेरे पास नहीं

Dil Ki Na Sun Ye Fakeer Kar Dega,
Wo Jo Udas Baithe Hain, Nabab The Kabhi.

दिल की ना सुन ये फ़कीर कर देगा,
वो जो उदास बैठे हैं, नवाब थे कभी।

Seekh Nahin Pa Raha Hun Meethe Jhooth Bolane Ka Hunar,
Kadave Sach Se Hamse Na Jane Kitne Log Rooth Gaye.

सीख नहीं पा रहा हूँ मीठे झूठ बोलने का हुनर,
कड़वे सच से हमसे न जाने कितने लोग रूठ गये।

bade logon se milne men hameshaa phaaslaa rakhnaa
jahaan dariyaa samundar se milaa dariyaa nahin rahtaa

बड़े लोगों से मिलने में हमेशा फ़ासला रखना
जहाँ दरिया समुंदर से मिला दरिया नहीं रहता

Bhare Bajaar Se Aksar Main Khali Haath Aata Hun,
Kabhi Khwahish Nahi Hoti Kabhi Paise Nahi Hote.

भरे बाजार से अक्सर मैं खाली हाथ आता हूँ,
कभी ख्वाहिश नहीं होती कभी पैसे नहीं होते।

Shayad Koi Tarash Kar Meri Kismat Sanwaar De,
Yeh Soch Kar Hum Umr Bhar Patthar Bane Rahe.

शायद कोई तराश कर मेरी किस्मत संवार दे,
यह सोच कर हम उम्र भर पत्थर बने रहे।

Kaun Kaisa Hai Ye Hi Fikr Rahi Tamaam Umr,
Ham Kaise Hain Ye Kabhi Bhool Kar Bhi Nahi Socha.

कौन कैसा है ये ही फ़िक्र रही तमाम उम्र,
हम कैसे हैं ये कभी भूल कर भी नही सोचा

Karte Hai Meri Khamiyon Ko Bayaan Aise,
Log Apne Kirdar Mein Farishte Hon Jaise.

करते हैं मेरी कमियों को बयान ऐसे,
लोग अपने किरदार में फ़रिश्ते हों जैसे।

Aayina Phaila Raha Hai Khud Farebi Ka Ye Marz,
Har Kisi Se Keh Raha Hai Aapsa Koi Nai.

आईना फैला रहा है खुद फरेबी का ये मर्ज,
हर किसी से कह रहा है आपसा कोई नहीं।

ab samajh lete hain mithe laphj ki kadvaahten,
ho gayaa hai jindgi kaa tajurbaa thodaa bahut

अब समझ लेते हैं मीठे लफ़्ज़ की कड़वाहटें,
हो गया है ज़िंदगी का तजुर्बा थोड़ा बहुत।

Kagazon Pe Likh Kar Zaya Kar Doon Main Wo Shakhs Nahi,
Wo Shayar Hoon Jise Dilon Pe Likhne Ka Hunar Aata Hai.

कागज़ों पे लिख कर ज़ाया कर दूँ मैं वो शख़्स नहीं,
वो शायर हूँ जिसे दिलों पे लिखने का हुनर आता है।

apne hi hote hai jo dil par vaar karte hai !
gairon ko kyaa khabar dil kis baat par dukhtaa hai

अपने ही होते है जो दिल पर वार करते है !
गैरों को क्या खबर दिल किस बात पर दुखता है

Lakdi Ke Makano Mein Chiraago Ko Na Rakhiye,
Apne Bhi Yeha Aag Bujhaane Nahi Aate.

लकड़ी के मकानों में चरागों को न रखिये,
अपने भी यहाँ आग बुझाने नहीं आते।

kisi ne kahaa aapki aankhe badi khubsurat hai,
maine kah diyaa ki, baarish ke baad aksar mausam suhaanaa ho jaataa hai

किसी ने कहा आपकी आँखे बड़ी खूबसूरत है,
मैने कह दिया कि, बारिश के बाद अक्सर मौसम सुहाना हो जाता है!

Two Line Status

saath dene ki kyaa baat karte ho saahab..
hamne to unke saath chhodne men bhi unkaa saath diyaa

साथ देने की क्या बात करते हो साहब..
हमने तो उनके साथ छोड़ने में भी उनका साथ दिया

Dekh Hontho Ko Unke Ek Baat Uthi Jehan Me,
Honge Lafaz Wo Kitne Nasheele Jo Ho Kar Gujarte Honge.

देख होंठों को उनके एक बात उठी जेहन में,
होंगे लफ्ज़ वो कितने नशीले जो हो कर इनसे गुज़रते होंगे।

Unse Kehna Apni Kismat Pe Guroor Achha Nahi Hota,
Hum Ne Barish Mein Bhi Jalte Huye Ghar Dekhe Hain.

उनसे कहना अपनी किस्मत पे गुरूर अच्छा नहीं होता,
हम ने बारिश में भी जलते हुए घर देखे हैं।

Bhool Kar Bhi Apne Dil Ki Baat Kisi Se Mat Kahna,
Yahan Kagaz Bhi Jara Si Der Mein Akhbaar Ban Jata Hai.

भूल कर भी अपने दिल की बात किसी से मत कहना,
यहाँ कागज भी जरा सी देर में अखबार बन जाता है।

napharat kaa kahar dekhaa nahin tumne,
ho saktaa hai dilon ki najaakat hai

नफरत का कहर देखा नहीं तुमने,
हो सकता है दिलों की नजाकत है

Mohbbaton Ke Dinon Ki Yahi Kharabi Hai,
Ye Rooth Jaen To Phir Lautkar Nahin Aate.

मोहब्बतों के दिनों की यही ख़राबी है,
ये रूठ जाएँ तो फिर लौटकर नहीं आते।

Bahut Se Log The Mehmaan Mere Ghar Lekin,
Woh Janta Tha Ki Hai Ehtmaam Kiske Liye.

बहुत से लोग थे मेहमान मेरे घर लेकिन,
वो जानता था कि है एहतमाम किसके लिए।

kyon tum apni nigaahen mujhpe tikaati ho,
kuchh to baat hai jo tum mujhse chhupaati ho

क्यों तुम अपनी निगाहें मुझपे टिकाती हो,
कुछ तो बात है जो तुम मुझसे छुपाती हो।

Yun Hi Ek Chhoti Si Baat Pe Tallukat Purane Bigad Gaye,
Mudda Ye Tha Ki Sahi “Kya” Hai Aur Wo Sahi “Kaun” Par Ulajh Gaye.

यूँ ही एक छोटी सी बात पे ताल्लुकात पुराने बिगड़ गये,
मुद्दा ये था कि सही “क्या” है और वो सही “कौन” पर उलझ गये।

Kaante Kisi Ke Haq Mein Kisi Ko Gulo-Samar,
Kya Khoob Ehtmaam-e-Gulistaan Hai AajKal.

काँटे किसी के हक में किसी को गुलो-समर,
क्या खूब एहतमाम-ए-गुलिस्ताँ है आजकल।

Har Ek Raat Mein Sau Baar Jala Aur Bujha Hun,
Muflis Ka Diya Hun Magar Aandhi Se Ladaa Hun.

हर इक रात में सौ बार जला और बुझा हूँ,
मुफ़्लिस का दिया हूँ मगर आँधी से लड़ा हूँ।

Waqif Tha Meri Khana-Kharabi Se Woh Shakhs,
Jo Mujhse Mere Ghar Ka Pataa Puchh Raha Tha.

वाकिफ था मेरी खाना-खराबी से वो शख्स,
जो मुझसे मेरे घर का पता पूछ रहा था।

do shabd tasalli ke nahin milte es shahar men,
log dil men bhi dimaag lia phirte hain

दो शब्द तसल्ली के नहीं मिलते इस शहर में,
लोग दिल में भी दिमाग लिए फिरते हैं।

Koi Tabeez Aisa Do Ki Main Chalaak Ho Jaun,
Bahut Nuksaan Deti Hai Mujhe Yeh Saadgi Meri.

कोई ताबीज़ ऐसा दो कि मैं चालाक हो जाऊं,
बहुत नुकसान देती है मुझे ये सादगी मेरी।

Tamam Gile-Shikwe Bhula Kar Soya Karo Yaaro,
Suna Hai Maut Kisi Ko Mulakaat Ka Mauka Nahin Deti.

तमाम गिले-शिकवे भुला कर सोया करो यारो
सुना है मौत किसी को मुलाक़ात का मौका नही देती।

talab karen to main apni aankhen bhi unhen de dun,
magar ye log meri aankhon ke khvaab maangte hain

तलब करें तो मैं अपनी आँखें भी उन्हें दे दूँ,
मगर ये लोग मेरी आँखों के ख्वाब माँगते हैं।

ज़ार-ज़ार रोई आँखें ठहर गई दिल की धड़कन,
मेरे अपनों में मेरी औकात का मंज़र देखकर।

अन्दर लगी थी आग, मगर बेखबर थे लोग,
जलते हुए मकान के बाहर धुआँ न था।

आँधियाँ हसरत से अपना सर पटकती रहीं,
बच गए वो पेड़ जिनमें हुनर लचकने का था।

अपनी तस्वीर बनाओगे तो अहसास होगा,
कितना दुश्वार है खुद को कोई चेहरा देना।

वक़्त के साथ बदल जाते हैं चेहरे सारे,
आज अपने हैं ये लोग कल पराये होंगे।

तुम्हारा दबदबा लोगों यहाँ सिर्फ ज़िंदगी तक है,
किसी की कब्र के अंदर ज़मींदारी नहीं चलती।

कम ही होते हैं जज्बातों को समझने वाले,
इसलिए शायद शायरों की बस्तियाँ नहीं होती।

अजीब सी पहेलियाँ हैं मेरे हाथों की लकीरों में,
लिखा तो है सफ़र मगर मंज़िल का निशान नहीं।

बस यही दो मसले, जिंदगी भर ना हल हुए,
ना नींद पूरी हुई… ना ख्वाब मुकम्मल हुए।

सामान बाँध लिया है मैंने भी अब बताओ दोस्त,
वो लोग कहाँ रहते है जो कहीं के नहीं रहते।

हम कितने दिन जिए ये जरुरी नहीं,
हम उन दिनों में कितना जिए ये जरुरी है।

सुकून मिलता है दो लफ्ज़ कागज पे उतार कर,
कह भी देता हूँ और आवाज भी नहीं होती।

Two Line Romantic Shayari in Hindi

जरा छू लूँ तुमको कि मुझको यकीं आ जाये,
लोग कहते हैं मुझे साये से मोहब्बत है।

jara chhoo loon tumako ki mujhako yakeen aa jaaye,
log kahate hain mujhe saaye se mohabbat hai.

तुम मिल गए तो मुझ से नाराज है खुदा,
कहता है कि तू अब कुछ माँगता नहीं है।

Tum Mil Gaye Toh Mujh Se Naraj Hai Khuda,
Kahta Hai Ke Tu Ab Kuchh Mangta Nahi Hai.

हक़ीक़त ना सही तुम ख़्वाब बन कर मिला करो,
भटके मुसाफिर को चांदनी रात बनकर मिला करो।

Haqikat Na Sahi Tum Khwab Bankar Mila Karo,
Bhatke Musafir Ko Chaandani Raat Bankar Mila Karo.

सिर्फ याद बनकर न रह जाये प्यार मेरा
कभी कभी कुछ वक़्त के लिए आया करो

Sirf Yaad Bankar Na Rah Jaye Pyaar Mera
Kabhi Kabhi Kuch Waqt Ke Liye Aaya Karo

मुद्दत के बाद उसने जो आवाज़ दी मुझे,
कदमों की क्या बिसात थी साँसे ठहर गयीं।

Muddat Ke Baad Usne Jo Aawaz Di Mujhe,
Kadmon Ki Kya Bisaat Thi Saansein Thhahar Gayin.

हमारे इश्क़ को यूं न आज़माओ सनम,
पत्थरों को धड़कना सिखा देते हैं हम।

Humare Ishq Ko Yoon Na Aazmaao Sanam,
Pattharon Ko Bhi Dhadkana Sikha Dete Hain Hum

Conclusion:

Thank you for visiting Yourhindi.net I hope you like our collections of Two Line Shayari in Hindi. I will suggest you kindly check out our Funny Shayari post Have a nice day..!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button