General

शिलाजीत के फायदे हिंदी में – Shilajit ke fayde hindi mein

आज के इस पोस्ट में हम जानेंगे कि आयुर्वेद में बताए अनुसार शिलाजीत हमारे लिए कैसे फायदेमंद है और शिलाजीत के क्या-क्या दुष्प्रभाव होते हैं? चलिए, शुरू करते हैं

सबसे पहले हम चर्चा करेंगे कि शिलाजीत क्या है?

शिलाजीत एक गाढ़ा रूप है जो मुख्य रूप से हिमालय के पहाड़ों में पाया जाता है। यह कई सदियों से चली आ रही पौधों और पेड़ों की अपघटन प्रक्रिया से बनता है। शिलाजीत मुख्य रूप से आयुर्वेदिक उपचार में प्रयोग किया जाता है। इसका उपयोग बहुत प्रभावी और सुरक्षित है। यह हमारे पूरे शरीर के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में बहुत प्रभावी है।

तो चलिए अब बात करते हैं शिलाजीत के फायदों के बारे में और यह हमारे स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है?

शिलाजीत के फायदे

  1. यह अल्जाइमर रोग में काफी मददगार होता है।
यह अल्जाइमर रोग में काफी मददगार होता है।
यह अल्जाइमर रोग में काफी मददगार होता है।

शिलाजीत का सबसे पहला फायदा यह है कि यह अल्जाइमर रोग में काफी मददगार होता है। अल्जाइमर एक मस्तिष्क रोग है जो मुख्य रूप से व्यक्ति की याददाश्त, सोचने की क्षमता और व्यवहार को प्रभावित करता है।

हालांकि अल्जाइमर के इलाज के लिए कई अंग्रेजी दवाएं हैं, लेकिन कई शोधकर्ताओं का सुझाव है कि शिलाजीत के अंदर कुछ फायदेमंद यौगिक मौजूद हैं जो अल्जाइमर रोग से बचाने और उसकी प्रगति को काफी हद तक धीमा करने में काफी कारगर हैं।

  1. कम टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है।
यह कम टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है।
यह कम टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है।

शिलाजीत का दूसरा लाभ यह है कि यह कम टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाता है। टेस्टोस्टेरोन मुख्य पुरुष सेक्स हार्मोन है। इसकी कमी कुछ लोगों में दूसरों के मुकाबले देखने को मिलती है।

कम टेस्टोस्टेरोन के कुछ लक्षण इस प्रकार हैं:
1) बालों का झड़ना,
2) थकान शरीर,
3) वसा लाभ,
4) मांसपेशियों की हानि,
5) कम सेक्स ड्राइव

एक नैदानिक अध्ययन के दौरान, लगभग 45 से 55 वर्षीय पुरुषों को 90 दिनों के लिए प्रतिदिन 250 मिलीग्राम (मिलीग्राम) शुद्ध शिलाजीत दिया गया। परिणामों में देखा गया कि शुद्ध शिलाजीत लेने के बाद उनके टेस्टोस्टेरोन स्तर में उल्लेखनीय वृद्धि हुई।

इसलिए, यह इस तथ्य को साबित करता है कि शिलाजीत कम टेस्टोस्टेरोन के स्तर को बढ़ाने में बहुत उपयोगी है। लेकिन हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि शिलाजीत सामान्य टेस्टोस्टेरोन के स्तर पर काम नहीं करता है,

यह तभी काम करता है जब किसी का टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम हो।

  1. क्रोनिक थकान सिंड्रोम को रोकने में मदद करता है।
क्रोनिक थकान सिंड्रोम को रोकने में मदद करता है।
यह अल्जाइमर रोग में काफी मददगार होता है।

शिलाजीत का अगला स्वास्थ्य लाभ यह है कि यह क्रोनिक थकान सिंड्रोम को रोकने में मदद करता है। क्रोनिक थकान सिंड्रोम एक ऐसी बीमारी है जिसमें व्यक्ति बहुत थका हुआ महसूस करता है। इस बीमारी के दौरान घर, स्कूल या ऑफिस का छोटा-मोटा काम भी थकान के कारण बहुत भारी पड़ जाता है।

शोधकर्ताओं का मानना है कि शिलाजीत के सेवन से हमारे शरीर को भरपूर ऊर्जा मिलती है और थकान जैसी समस्या से भी छुटकारा मिलता है।

  1. एनीमिया में फायदेमंद है शिलाजीत
एनीमिया में फायदेमंद है शिलाजीत
एनीमिया में फायदेमंद है शिलाजीत

जब हमारे खून में आयरन की कमी नजर आती है तो उस स्थिति को एनीमिया कहते हैं। एनीमिया का मुख्य कारण आपके भोजन में आयरन की कमी, अधिक रक्त प्रवाह, या आयरन को अवशोषित करने की क्षमता की कमी है।

इससे आपको थकान, कमजोरी, ठंडे हाथ, सिर दर्द, दिल की धड़कन का असामान्य होना जैसी समस्याएं हो जाती हैं ।
शिलाजीत हमारे शरीर में आयरन की मात्रा को बढ़ाता है।

  1. शिलाजीत हमें उम्र बढ़ने से रोकता है
शिलाजीत हमें उम्र बढ़ने से रोकता है
शिलाजीत हमें उम्र बढ़ने से रोकता है

शिलाजीत के अंदर बहुत अच्छी मात्रा में फुल्विक एसिड पाया जाता है, जो एक बहुत ही शक्तिशाली एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी माना जाता है। शिलाजीत का लंबे समय तक उपयोग आपको उम्र बढ़ने और अच्छे स्वास्थ्य से सुरक्षा प्रदान करता है। शिलाजीत हमारे दिल की सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है

Side effects of shilajit – शिलाजीत के नुकसान हिंदी में

हालांकि शिलाजीत पूरी तरह से असरदार और सुरक्षित है, लेकिन हमें कच्चा या अशुद्ध शिलाजीत का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए।

अशुद्ध शिलाजीत के अंदर कई हानिकारक तत्व, फ्री रेडिकल्स और फंगस पाए जाते हैं जो आपको बीमार कर सकते हैं। शिलाजीत को खरीदने से पहले यह सुनिश्चित कर लें कि वह पूरी तरह से शुद्ध हो।

अगर आप शुद्ध और बेहतरीन शिलाजीत खरीदना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए लिंक को देखें

अगर आपको सिकल सेल एनीमिया और हेमोक्रोमैटोसिस (खून में आयरन की मात्रा ज्यादा होना) जैसी समस्याएं हैं तो आपको शिलाजीत का सेवन बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए।

How to use shilajit शिलाजीत का प्रयोग कैसे करें

शिलाजीत लेने से पहले आप किसी आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह जरूर लें।

तो चलिए अब बात करते हैं कि शिलाजीत का इस्तेमाल कैसे किया जाता है शिलाजीत ज्यादातर तरल और कैप्सूल के रूप में उपलब्ध है। इसका इस्तेमाल करने से पहले आप इसका सेवन किसी आयुर्वेदिक डॉक्टर के बताए अनुसार ही करें।

यदि आप शिलाजीत के तरल रूप का उपयोग करते हैं, तो आप इसकी एक बूंद पानी में 1 से 3 बार दिन में (आदेश के अनुसार) ले सकते हैं या

आप इसके कैप्सूल को दिन में 2 बार दूध के साथ ले सकते हैं। कई शोधों में शिलाजीत की अनुशंसित खुराक प्रति दिन 300 से 500 मिलीग्राम है। इसे लेने से पहले अपने आयुर्वेदिक चिकित्सक से सलाह अवश्य लें!

[FAQ] शिलाजीत पर पूछे जाने वाले सवाल

हालांकि यह जड़ी बूटी प्राकृतिक और सुरक्षित है, आपको कच्चे या असंसाधित शिलाजीत का सेवन नहीं करना चाहिए। कच्चे शिलाजीत में भारी धातु आयन, मुक्त कण, कवक और अन्य संदूषण हो सकते हैं जो आपको बीमार कर सकते हैं। चाहे आप ऑनलाइन खरीदें या प्राकृतिक या स्वास्थ्य खाद्य भंडार से, सुनिश्चित करें कि शिलाजीत शुद्ध है और उपयोग के लिए तैयार है।
शिलाजीत गोल्ड एक आयुर्वेदिक फॉर्मूलेशन है जो ताकत, सहनशक्ति और शक्ति में सुधार के लिए अच्छा है और सामान्य कमजोरी को दूर करने में फायदेमंद है
शिलाजीत Capsule बहुत फायदेमंद पतंजलि उत्पाद है जो एक स्वास्थ्य बूस्टर है और आपके शरीर को मजबूत और स्वस्थ बनाता है। सामान्यीकृत कमजोरी और मूत्र विकार में उपयोगी है।
  1. शिलाजीत तेल नसों, मांसपेशियों और रक्त वाहिकाओं को मजबूत करने में मदद करता है,
  2. इसलिए इसका उपयोग मधुमेह, वात रोगों (न्यूरो-पेशी रोगों) के लिए किया जाता है।
  3. शिलाजीत तेल पेट पर बाहरी रूप से लगाने पर महिलाओं में मासिक धर्म से संबंधित दर्द से राहत देता है।
  4. शिलाजीत तेल मानसिक स्थितियों में उपयोग किया जाता है, यह तेल शिश्न की मांसपेशियों, कोशिकाओं और ऊतकों को गहरा पोषण प्रदान करके लिंग की ताकत में सुधार करने में मदद करता है।
  5. Dabur Shila X Oil गैर-आदत बनाने वाला है और यह 100% प्राकृतिक और सुरक्षित है

महिलाओं के लिए शिलाजीत के कई फायदे हैं जैसे

  1. एनीमिया में फायदेमंद
  2. महिला में प्रजनन क्षमता में सुधार
  3. हड्डी के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है
  4. तनाव और चिंता को कम करता है
  5. त्वचा के अच्छे स्वास्थ्य को बनाए रखने में मदद करता है
  6. गठिया के खतरे को कम करता है
  7. अल्जाइमर रोग को रोकें
  8. यह एक एनर्जी बूस्टर है

Read More:

निष्कर्ष :

Yourhindi.net पर आने के लिए आपका धन्यवाद आशा है कि आपको हमारा पोस्ट शिलाजीत के फायदे हिंदी में पसंद आया होगा। अगर आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ अपने सोशल मीडिया पर शेयर जरूर करें। मैं आपको सुझाव दूंगा कि कृपया Bhagwat Geeta in Hindi पोस्ट को पढ़ना चाहिए। आपका दिन शुभ हो..!

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button